दिनांक 18.09.21 को फरियादी में थाना कोतवाली आकर सूचना दर्ज कराई कि दिनांक 17.09.21 को करीब शाम 5:00 बजे फरियादी का ड्राइवर ट्रक फतेहपुर चौराहे के समीप खड़ा कर चाबी देकर चला गया था सुबह 18.09.2021 को देखने पर उक्त जगह पर ट्रक खड़ा नहीं मिला जो अज्ञात कोई अज्ञात चोर ट्रक को चुरा कर ले गया फरियादी की उक्त रिपोर्ट पर से थाना कोतवाली में अपराध क्रमांक 532/21 धारा 379 का कायम कर विवेचना में लिया गया।

उक्त मामले को गंभीरता से लेते हुये पुलिस अधीक्षक शिवपुरी श्री राजेश सिंह चंदेल द्वारा आरोपीगणों की जल्द जल्द से गिरफ्तारी के निर्देश दिये। तत्काल कार्यवाही करते हुये अति पुलिस अधीक्षक शिवपुरी श्री प्रवीण कुमार भूरिया एवं एसडीओपी शिवपुरी श्री अजय भार्गव के मार्गदर्शन मे चोरी गये ट्रक व अज्ञात आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु तीन पुलिस टीमें गठित की गई ।

आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु सीसीटीवी कैमरा खंगाले एवं मुखबिर तंत्र को सक्रिय किया गया सीसीटीवी कैमरों के आधार पर ज्ञात हुआ की चोरी गये ट्रक के पीछे एक स्विफ्ट कार जा रही है जिसका रजिस्ट्रेशन नंबर शिवपुरी का है एक पेट्रोल पंप पर उक्त चोरी गये ट्रक में डीजल डलाने पर भुगतान कार चालक द्वारा किया गया, उक्त कार का नंबर पता कर शिवपुरी मे कार मालिक का पता कर कार से संबंध मे पूछताछ की गई तो कार मालिक द्वारा वताया गया कि कार को उसका ड्रायवर दिनांक 18.09.2021 को लेकर गया है जो उक्त कार चालक की पतारशी कि तो उसकी लोकेशन राजगढ़ जिला दौसा (राजस्थान) तरफ जाती हुई दिखी जिस पर से राजगढ़ पुलिस के सहयोग से उक्त स्विफ्ट कार चालकों को रोकने का प्रयास किया तो यह भाग गए बाद में घेराबंदी कर दो व्यक्तियों को पकड़ा व पूछताछ की गई तो उन्होंने उक्त ट्रक चोरी की घटना को अपने अन्य तीन साथियों के साथ घटना को अंजाम देना स्वीकार किया एवं बताया कि ट्रक कुमावत वर्कशॉप नसीराबाद राजस्थान में बेचने/काटने के लिये खड़ा है जिस पर से कुमावत वर्कशॉप नसीराबाद राजस्थान से ट्रक कीमती करीब 2000000 को जप्त किया गया आरोपियों द्वारा ट्रक की पहचान छुपाने हेतु फर्जी नबंर ट्रक पर लगा दिये दोनों आरोपियों को गिरफ्तार किया एवं स्विफ्ट कार को जप्त किया एवं घटना मे सामिल अन्य तीन आरोपियों की तलाश जारी है। गिरफ्तार किये गये आरोपिगणों मे से एक आरोपी थाना बैराड़ जिला शिवपुरी का हिस्ट्री सीटर है जिसपर थाना बैराड़ एवं ग्वालियर मे लूट एवं एटीएम से लूट के गंभीर अपराध पंजीबद्ध है । उक्त आरोपीयों से अन्य चोरी गये वाहनों के संबंध मे पूछताछ की जा रही है ।